Paralysis Treatment In Goat And Sheep


Paralysis Treatment In Goat And Sheep

नमस्कार दोस्तो,
मुझे काफी दिनोसे बकरियो को होनेवाली Goat Paralysis बीमारी के बारेमे फोन या मैसेज आरहे थे। इस बीमारी के चपेट में पिछले साल भी कई राज्यो के बकरी पालन परेशान हो गए थे। Goat Paralysis बीमारी में बकरियो के अगले या पिछले एक या दो पैर को लकवा हो जाता है ।
www.goatfarming.ooo

What Is Goat Paralysis

Goat Paralysis बकरियो के मष्तिष्क से जुड़ी एक ऐसी बीमारी है। जिसके होनेसे बकरियो के शरीर को लकवा मार जाता है। खासकर वयस्क बकरियो में ये बीमारी ज्यादा देखी जाती है। Goat Paralysis में बकरियो एक या दोनों पैर अचानक काम करना बंद कर देते है। बकरियो के कमर के नीचे से पैर बकरियो का वजन उठा नही सकते और बकरी को लकवा मारने जैसी बीमारी हो जाती है।
Goat Paralysis बीमारी के शुरुवाती लक्षण कुछ खास नही है। मतलब बिनाकोई लक्षण दिखे ये बीमारी बकरियो को अपने चपेट में ले लेती है। इस बीमारी से ग्रसीत बकरी चलफिर या उठ नही सकती।

Reasons Of Goat Paralysis

Goat Paralysis एक ऐसी बीमारी है जिसका मुख्य कारण अभी तक पता नही है । मतलब सभी डॉक्टरो की अपनी अपनी राय है। लेकिन ये कहा जासकता है कि ये एक बक्टेरियल बीमारी है। बैक्टीरिया बकरियो के मष्तिष्क के तंत्रिका प्रणाली पर हमला कर बकरियो में Goat Paralysis का कारण बनता है।
Goat Paralysis खासकर सितम्बर से जनवरी के महीनों में अपना रंग दिखाती है, ये मौसम भारत मे आमतौर पर ठंडी का मौसम होता है। इस बीमारी की चपेट में स्वस्थ बकरी या बकरा भी आसकता है ।
Setaria spp. और Elaphostrongylus spp. ये दो मुख्य बक्टेरिया है जिसके बकरी के शरीर मे प्रवेश होने के कारण Goat Paralysis होता है।Setaria spp. और Elaphostrongylus spp. इन दो बक्टेरियल इंफेक्शन की वजह से बकरियो के नर्व्हस सिस्टम को नुकसान होता है और बकरियो में
चक्कर आना, मांसपेशियों में कमजोरी, थरथराहट औऱ Paralysis भी होसकता है ।

Treatment Of Goat Paralysis

Goat Paralysis बीमारी में बकरियो को चलने फिरने या खड़ा होने में कठिनाई होती है। बकरी एकही जगह पर बैठ जाती है। ऐसे में बकरियो को सबसे पहले एक झूले की मदत से यानी ऐसा जुगाड़ करना है जिसके कारण बकरी खड़ी हो सके चाहे तो आप बकरी को चारपाई में उसके चारो पैर  डालकर खड़े कर सकते हों या चार लकड़ियों के मदत से और रस्सी या कपड़े की मदत से बकरियो के लिए ऐसा जुगाड़ बनाना है जिसकी मदत से बकरी का भार उसके पैरों पर आसके।
www.goatfarming.ooo

www.goatfarming.ooo

दोस्तो बकरियो को Goat Paralysis के इलाज के लिए

The Indian Journal Of Veterinary  Sciences And Biotechnology,
Livestock Reserch  Station,
Navsari Agricultural University,
Navsari Gujrat .
के डॉक्टरों द्वारा Goat Paralysis पर एक शोध निबंध लिखा गया है। इस निबंध में इस संस्था के डॉक्टरों ने Goat Paralysis होने के कारण और उनके प्रयोग के दरम्यान बकरियो को कीगयी सफल औषधोपचार के बारे में बताया गया है ।

आप निचे दिगयीं लिंक का इस्तेमाल करके संस्था द्वारा दिगयीं शोध निबंध पढ़ सकते है।

Navsari Agricultural University, Navsari Gujrat .

ये भी जरूर पढ़ें ।

Goat Paralysis के इलाज के लिए ये ट्रीटमेंट करनी चाहिए

Inj.Ivermectin@0.4mg/kg body weight subcutaneously

Oral fenbendazole orally @20mg/kg once a day for 5 days.

Intramuscular injection of Inj. Isoflud®@1ml (Zydus Animal Health Ltd., India)

Inj. Tribivet®@3ml (Intas Pharmaceuticals Ltd., India) @2-3ml daily for 5 days.

Orally supplemented with Liq. Vigest® (Bayer Animal Health Ltd.) @10ml twice daily for 5-10 days.

Feed (green and concentrate) and water were made available at their bed until recovery.

सूचना ये उपचार पद्धति The Indian Journal Of Veterinary  Sciences And Biotechnology, Livestock Reserch  Station,Navsari Agricultural University, Navsari Gujrat . द्वारा Goat Paralysis पर की गई है। इसका मतलब ये नही है कि ये उपचार पद्धति सिद्ध है। अगर आप इस उपचार पद्धति अपनाते है और जानवरो को नुकसान होता है तो इसकी सर्वस्वी जिम्मेदारी आपकी होगी। के पोस्ट सिर्फ एक जानकारी हेतु पोस्ट की गई है।इस पोस्ट में दिगयीं उपचार पद्धति अपनाने से पहले अपने पशुचिकिस्तक की राय जरूर ले।

Paralysis Treatment In Goat And Sheep Paralysis Treatment In Goat And Sheep Reviewed by Nitesh S Khandare on November 16, 2018 Rating: 5

1 comment:

Powered by Blogger.